हरियाणा के युवाओं को मिलेगा रोजगार


इस न्यूज अपडेट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें

22 नवंबर से 15 दिसंबर तक 170 जगहों अंत्योदय ग्रामोदय मेले लगाए जाएंगे. इनके माध्यम से 1 लाख लोगों को रोजगार प्राप्त करवाने का लक्ष्य रखा गया है.

बृहस्पतिवार को श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय दुधौला में चल रहे कार्यों की समीक्षा बैठक में मौजूद रहे. मुख्यमंत्री ने कुलपति राज नेहरू से कहा कि प्रत्येक अंतोदय ग्रामोदय मेले में कौशल विश्वविद्यालयों के प्रमुख 10 कर्मचारी अपनी स्टाल लगाएं.

उन्होंने यह भी प्रमुख बात कही कि जिस भी ट्रेनिंग संस्थानों में विद्यार्थियों को भेजा जाता है उसका पूरा रिकॉर्ड बनाया जाए.

मुख्यमंत्री को यह सूचना दी गई कि कौशल विश्वविद्यालय ने प्रमाण पत्र डिप्लोमा, एडवांस  कोर्स इन डिप्लोमा डिग्री, अल्पकालिक कार्यक्रमों, छात्र विकास कार्यक्रम के माध्यम से लगभग 4000 छात्रों को स्किल्स प्रदान करके प्रशिक्षित कर दिया है.

यह आपको बता दें कि विश्वविद्यालय ने मौजूदा शैक्षणिक सत्र में कम अवधि वाले कार्यक्रमों के साथ 28 रेगुलर प्रोग्राम के कार्यक्रम भी चलाए जा रहे हैं.

सरकार ने हाल ही में निजी  नौकरियों में स्थानीय निवासियों को 75% आरक्षण देने वाले कानून को लागू कर दिया है. इसके बाद से ही प्रदेश सरकार लगातार इस संदर्भ में कार्य कर रही है.  हरियाणा के सभी योग्य युवाओं को स्किल्स सिखाने के लिए लगातार योजनाओं के माध्यम से और  कौशल शिक्षा संस्थानों के जरिए युवाओं को निजी क्षेत्र में कार्य करने के संदर्भ में कौशल सिखाए जा रहे हैं. 

कौशल विभाग उद्योग विभाग उत्तर शिक्षा विभाग और तकनीकी शिक्षा विभाग मिलकर  ITI (आईटीआई ) व पॉलिटेक्निक को नई तकनीक के साथ अपग्रेड करेंगे.  जिसके फलस्वरूप उद्योगों को प्रशिक्षित कौशल युक्त युवा मिल सके. ताकि उद्योग सुचारू रूप से चल सके.

दुष्यंत चौटाला ने समीक्षा बैठक में श्रम विभाग के अधिकारियों को यह सलाह दी कि ऐसा सरल तरीका विकसित किया जाए जिसके कारण स्वरूप  नियोक्ताओं में कर्मचारियों को श्रर्म विभाग की वेबसाइट पर विवरण बढ़ने में किसी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े.

‘हरियाणा उद्योग मेमोरेंडम’ पोर्टल पर 15 जनवरी तक हर हाल में पंजीकरण करके अपने अपने कर्मचारियों का विवरण भी भरना है. सरकार का उद्देश्य है कि युवाओं को निजी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करवाया जाए. उससे पहले हरियाणा के युवाओं को कौशल सिखाने के लिए आईटीआई संस्थानों में पॉलिटेक्निकल संस्थानों को अपग्रेड किया जाना है.


इस न्यूज अपडेट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें



Leave a Comment

close

Ad Blocker Detected!

Please disable adblocker to continue using our website. We provide the latest job updates and information free of cost. We get some revenue through ads that help us to provide these services at free of cost.

Refresh